बिना इंजन के आधे घंटे दौड़ती रही शिवगंगा एक्सप्रेस 

वाराणसी। भारतीय रेलवे के हालात बदलने का नाम ही नहीं ले रहे है। हर रोज कोई ना कोई रेल हादसे हो रहे है। शुक्रवार को एक बार फिर बड़ा रेल हादसे होने से टल गया। जी हां दिल्ली से वाराणसी जा रही शिवगंगा एक्सप्रेस की कपलिंग रास्ते में दो बार टूट गई। जिससे की इंजन और बाकी डब्बों का संर्पक टूट गया। हालांकि इस हादसे में किसी के भी हताहत होने की कोई खबर नहीं है। 
 
वीआईपी ट्रेनो में शुमार शिवगंगा एक्सप्रेस ट्रेन आज बड़ी दुघर्टना ग्रस्त होने से बच गई। भारतीय रेलवे की लापरवाही इसी बात से लगाया जा सकता हैं कि दो बार कपलिंग टूटने के बाद भी कोई ठोस कदम नही उठाया गया। वही ट्रेन दो बार कपलिंग टूटने के बाद आखिरी में वाराणसी के मंडुआडीह रेलवे स्टेशन पर इंजन खराब हो गया। वहीं रेलवे ने दूसरे इंजन को जोड़कर ट्रेन को आगे रवाना किया । 
 
कलपिंग खुलने की घटना से यात्रियों में भी हड़कम्प मच गया और ट्रेन में सफर कर रहे यात्रियों की भी सांसे थम गईं. पहली बार कपलिंग इलाहाबाद के झूंसी और रामनाथपुर स्टेशनों के बीच खुली। कपलिंग खुलने के बाद ट्रेन काफी देर तक ट्रैक पर खड़ी रही. जिसके बाद रेलकर्मियों ने कपलिंग जोड़कर ट्रेन को आगे रवाना किया। 
 
लेकिन ट्रेन बमुश्किल चालीस से पचास किलोमीटर आगे बढ़ी होगी कि एक बार फिर से ट्रेन की कपलिंग खुल गई. ट्रेन की दोबारा कपलिंग जंगीगंज और ज्ञानपुर स्टेशनों के बीच खुली। जिसके बाद एक बार फिर ट्रेन के यात्रियों में हड़कम्प मचा गया और काफी देर ट्रेन खड़ी रहने बाद कपलिंग जोड़कर आगे के लिए रवाना की जा सकी.  

You May Also Like