दिल्ली एमसीडी में भाजपा की हैट्रिक, आप और कांग्रेस में शुरू इस्तीफ़ो का दौर

नई दिल्ली। दिल्ली नगर निगम पर कौन काबिज़ होगा इसके लिए बुधवार को सुबह 8 बजे से शुरू हुई मतगणना अब खत्म होने को है। अब तक आए नतीजों और रुझानों में भाजपा को बहुमत मिलता दिख रहा है। दूसरी तरफ कांग्रेस आम आदमी को पछाड़ते हुए दूसरे नंबर पर नजर आ रही है जबकि आप तीसरी पार्टी बन गई है। भाजपा ने इस संभावित जीत को सुकमा के शहीदों को समर्पित किया है वहीं आप ने फिर से ईवीएम पर सवाल उठाए हैं।

भाजपा की इस जीत को देखते हुए पीएम मोदी ने दिल्ली के लोगों को शुक्रिया कहा है। पीएम ने ट्वीट कर लिखा कि दिल्ली के लोगों का भाजपा में विश्वास देखकर उनका आभारी हूं। टीम भाजपा की कड़ी मेहनत के लिए भी उनकी तारीफ करता हूं जिसके चलते यह जीत संभव हुई।

अब तक आए नतीजों और रुझानों में भाजपा 270 में से 181 सीटों पर जीत दर्ज करती नजर आ रही है वहीं आप 46 पर और कांग्रेस 31 पर आगे है। दक्षिण दिल्ली में भाजपा 71 सीटों पर आगे है वहीं आप 15 पर और कांग्रेस 12 सीटों पर आगे है। पूर्वी दिल्ली में भाजपा ने 46 सीटों पर बढ़त बनाई है जबकि कांग्रेस 5 सीटों पर आगे है वहीं आप 9 सीटों पर आगे है। उत्तरी दिल्ली की बाद करें तो 64 सीटों पर भाजपा जबकि 22 सीटों पर आप और 14 पर कांग्रेस आगे है।

भाजपा में जीत का जश्न

रुझानों को देखते हुए भाजपा में जीत का जश्न शुरू हो गया है। हालांकि पार्टी ने अपने मुख्यालय के बाहर बड़ा होर्डिंग लगाते हुए यह जीत सुकमा के शहीदों को समर्पित की है साथ ही। पार्टी के नेता मुख्यालय पहुंच रहे हैं और कई नेताओं ने सुकमा हमले के चलते इस जीत का जश्न नहीं मनाने का फैसला किया है।

अजय माकन और पीसी चाको के अलावा अलका लांबा का इस्तीफा

हार के बाद कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन और दिल्ली के प्रभारी पीसी चाको ने हार की जिम्मेदारी लेते हुए पद से इस्तीफा दे दिया है। वहीं आप विधायक अलका लांबा ने भी अपने विधानसभा की सीटें हारने के बाद इस्तीफे की पेशकश कर दी है।

आप ने ईवीएम को जिम्मेदार ठहराया तो कांग्रेस ने कैंपने को

हार के बाद आम आदमी पार्टी ने एक बार फिर से हार का ठीकरा ईवीएम मशीनों पर फोड़ा है वहीं कांग्रेस नेता शीला दिक्षीत ने इसके लिए कमजौर कैंपेन और प्लानिंग को जिम्मेदार ठहराया है।

2012 में आए एमसीडी चुनाव के नतीजे

उत्तरी दिल्ली एमसीडी

कुल वार्ड-104

भाजपा- 59, कांग्रेस- 29, बसपा- 7, अन्य- 9

दक्षिणी दिल्ली एमसीडी

कुल वार्ड- 104

भाजपा- 44, कांग्रेस- 29, बसपा- 5, अन्य- 26

पूर्वी दिल्ली एमसीडी

कुल वार्ड- 64

भाजपा- 35, कांग्रेस- 19, बसपा- 3, अन्य- 7

source: naidunia 

You May Also Like